नई दिल्ली । केंद्र सरकार की तरफ से संसद में एक लिखित जवाब में बताया कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान किसी की भी मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई है। इस पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र सरकार के इस बयान पर ट्वीट कर निशाना साधा और व्यंग्य करते हुए ट्वीट किया कि 'सिर्फ ऑक्सीजन की ही कमी नहीं थी। संवेदनशीलता व सत्य की भारी  कमी-तब भी थी, आज भी है।' अब राहुल के इस ट्वीट पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पलटवार किया है। खास बात यह है कि उन्होंने हिंदी या अंग्रेजी नहीं बल्कि इतालवी भाषा में ट्वीट कर राहुल पर निशाना साधा है। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के इतालवी में लिखे ट्वीट का अनुवाद कुछ इस तरह है, 'मैं इस राजकुमार के बारे में कुछ कहूंगा...उनके पास तब दिमाग की कमी थी, वह अब उसे याद करते हैं और वह इसे हमेशा के लिए याद करेंगे। ये सूचियां राज्यों ने तैयार की हैं। आप अपनी पार्टी द्वारा शासित राज्यों से कह सकते हैं कि वे संशोधित सूची जमा करें। तब तक झूठ बोलना बंद कीजिए।
बता दें कि स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने बताया कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश से ऑक्सीजन के अभाव में किसी भी मरीज की मौत की खबर नहीं मिली है। उन्होंने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी। उन्होंने यह भी बताया बहरहाल, कोविड महामारी की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की मांग अप्रत्याशित रूप से बढ़ गई थी। महामारी की पहली लहर के दौरान, इस जीवन रक्षक गैस की मांग 3095 मीट्रिक टन थी जो दूसरी लहर के दौरान बढ़ कर करीब 9000 मीट्रिक टन हो गई।